Bhagat Singh quotes in hindi – भगत सिंह के विचार

Bhagat Singh quotes in hindi – भगत सिंह के विचार
Advertisement

भारत के एक महान स्वतंत्रता सेनानी क्रांतिकारी भगत सिंह के बारे में तो आप अवश्य ही जानते होंगे , इस पोस्ट हम आपको भगत सिंह के द्वारा कही गई कुछ ऐसी बातें बताने वाले है जो आपके लिए प्रेरणा श्रोत के रूप में कार्य करेंगी आईए जानते हैं Bhagat Singh quotes in hindi – भगत सिंह के विचार

भगत सिंह – Bhagat Singh

भगत सिंह भारत के एक महान स्वतंत्रता सेनानी क्रांतिकारी थे उनका जन्म 28 सितम्बर 1907 को गाँव बंगा, जिला लायलपुर, पंजाब (अब पाकिस्तान में) हुआ था उनके पिता का नाम सरदार किशन सिंह और माता का नाम विद्यावती कौर था। यह एक किसान परिवार से थे।

उन्होंने युवावस्था में ही भारत में ब्रिटिश शासन का विरोध करना शुरू कर दिया और जल्द ही राष्ट्रीय स्वतंत्रता के लिए संघर्ष किया। उन्होंने अमृतसर में मार्क्सवादी सिद्धांतों की वकालत करने वाले पंजाबी और उर्दू भाषा के अखबारों के लिए एक लेखक और संपादक के रूप में भी काम किया । उन्हें “इंकलाब जिंदाबाद” (“क्रांति को लंबे समय तक जीवित रहें”) के नारे को लोकप्रिय बनाने का श्रेय दिया जाता है।

Advertisement

1928 में भगत सिंह ने साइमन कमीशन के विरोध में एक मूक मार्च के दौरान भारतीय लेखक और राजनेता लाला लाजपत राय , नेशनल कॉलेज के संस्थापकों में से एक की मौत के लिए जिम्मेदार पुलिस प्रमुख को मारने की साजिश रची । इसके बजाय, गलत पहचान के मामले में, जूनियर अधिकारी जेपी सॉन्डर्स की हत्या कर दी गई, और भगत सिंह को मौत की सजा से बचने के लिए लाहौर से भागना पड़ा । 1929 में उन्होंने और एक सहयोगी ने भारत की रक्षा अधिनियम के कार्यान्वयन का विरोध करने के लिए दिल्ली में केंद्रीय विधान सभा में बम फेंका और फिर आत्मसमर्पण कर दिया। सांडर्स की हत्या के आरोप में उन्हें 23 साल की उम्र में फांसी दे दी गई थी।

Bhagat Singh quotes in hindi – भगत सिंह के विचार

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,
देखना है ज़ोर कितना बाजु-ए-कातिल में है।।
– भगत सिंह
राख का हर एक कण,
मेरी गर्मी से गतिमान है।
मैं एक ऐसा पागल हूं,
जो जेल में भी आजाद है।।
– भगत सिंह

क्रांति मनुष्य का जन्म सिद्ध आधिकार है साथ ही आजादी भी जन्म सिद्ध अधिकार है और परिश्रम समाज का वास्तव में वहन करता है।

– भगत सिंह

जो व्यक्ति उन्नति के लिए राह में खड़ा होता है उसे परम्परागत चलन की आलोचना एवम विरोध करना होगा साथ ही उसे चुनौती देनी होगी।

– भगत सिंह

मेरी गर्मी के कारण राख का एक एक कण चलायमान हैं में ऐसा पागल हूँ जो जेल में भी स्वतंत्र हूँ।

– भगत सिंह

मैं यह मानता हूँ की मह्त्वकांक्षी, आशावादी एवम जीवन के प्रति उत्साही हूँ लेकिन आवश्यकता अनुसार मैं इस सबका परित्याग कर सकता हूँ सही सच्चा त्याग होगा।

– भगत सिंह

क्रांति में सदैव संघर्ष हो यह जरुरी नहीं| यह बम और पिस्तौल की राह नहीं है।

– भगत सिंह

प्रेमी, पागल और कवी एक ही थाली के चट्टे बट्टे होते है अर्थात सामान होते हैं।

– भगत सिंह

किसी भी कीमत पर शक्ति का प्रयोग ना करना काल्पनिक आदर्श है और देश में जो नवीन आन्दोलन शुरु हुआ है जिसके शुरुआत की हम चेतावनी दे चुके है वो गुरु गोबिन्द सिंह और शिवाजी, कमाल पाशा और राजा खान, वाशिंगटन और गैरीबालड़ी, लाफयेतटे और लेनिन के आदर्शों का अनुसरण है।

– भगत सिंह

 मैं एक इन्सान हूँ और जो भी चीजे इंसानियत पर प्रभाव डालती है मुझे उनसे फर्क पड़ता है।

– भगत सिंह

जीवन अपने दम पर चलता है…. दूसरों के कन्धों पर तो अंतिम यात्रा पूरी होती है।

– भगत सिंह

यदि बहरों को सुनना है तो आवाज तेज करनी होगी . जब हमने बम फेका था तब हमारा इरादा किसी को जान से मारने नहीं था. हमने ब्रिटिश सरकार पर बम फेका था. ब्रिटिश सरकार को भारत छोड़ना होगा और उसे स्वतंत्र करना होगा।

– भगत सिंह

अगर हमें सरकार बनाने का मौका मिलेगा तो किसी के पास प्राइवेट प्रॉपर्टी नहीं मिलेगी।

– भगत सिंह

बम और पिस्तौल से क्रांति नहीं आती, क्रांति की तलवार विचारों की सान पर तेज होती है।

– भगत सिंह

व्यक्तियों को कुचल कर, वे विचारों को नही मार सकते।

– भगत सिंह

अगर हमें सरकार बनाने का मौका मिलेगा तो किसी के पास प्राइवेट प्रॉपर्टी नहीं मिलेगी।

– भगत सिंह

अगर हमें सरकार बनाने का मौका मिलेगा तो किसी के पास प्राइवेट प्रॉपर्टी नहीं मिलेगी।

– भगत सिंह

किसी को क्रांति शब्द कि व्याख्या शाब्दिक अर्थ में नहीं करनी चाहिए जो लोग इस शब्द का दुरूपयोग करते है, उनके फायदे के हिसाब से इसे अलग अर्थ और मतलब दिए जाते है।

– भगत सिंह

अहिंसा को आत्म विश्वास का बल प्राप्त है जिसमे जीत की आशा से कष्ट वहन किया जाता है। लेकिन अगर यह प्रयत्न विफल हो जाए तब क्या होगा? तब हमें इस आत्म शक्ति को शारीरिक शक्ति से जोड़ना होता है ताकि हम अत्याचारी दुश्मन की दया पर न रहे।

– भगत सिंह

ये भगत सिंह द्वारा भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के दौरान कहे गए कुछ वचन थे उम्मीद है आपको जरूर पसंद आए होंगे।

यह भी पढ़ें…
Elon Musk Quotes in hindi – एलन मस्क के अनमोल विचार

Leave a Comment