मनी लॉन्ड्रिंग क्या है – Money laundering in Hindi

मनी लॉन्ड्रिंग क्या है – Money laundering in Hindi

Money laundering in Hindi

आपने अक्सर टेलीविजन, अखबारों या किसी अन्य माध्यम से मनी लॉन्ड्रिंग की खबरें जरूर सुनी होंगी लेकिन क्या आपको पता है मनी लॉन्ड्रिंग क्या है What is Money laundering in Hindi अगर नहीं पता है तो इस पोस्ट को पढ़कर कम मनी लॉन्ड्रिंग के विषय में सब कुछ जान जाएंगे।

मनी लॉन्ड्रिंग क्या है What is Money laundering in Hindi

मनी लॉन्ड्रिंग अवैध रूप से कमाए गए काले धन को किसी भी तरह से वैध बनाने की प्रक्रिया है मनी लॉन्ड्रिंग के द्वारा ड्रग्स, तस्करी सहित और कई अन्य आपराधिक गतिविधियों द्वारा कमाए गए धन को कुछ ऐसे कामों में निवेश किया जाता है की जिससे उस धन के मूल स्रोत का पता नहीं चल पाए , सरल भाषा में कहे तो काले धन को सफेद धन यानि वैध धन में बदलना ही मनी लॉन्ड्रिंग है ।

मनी लॉन्ड्रिंग में अवैध माध्यम से कमाया गया काला धन सफ़ेद होकर अंत में अपने असली मालिक के पास वैध मुद्रा के रूप में लौट आता है.

लाउन्डरर (Launderer) किसे कहते हैं?

जो व्यक्ति अवैध धन को वैध बनाता है उसको “लाउन्डरर” (Launderer) कहा जाता है अर्थात उस काले धन का मालिक ही “लाउन्डरर” (Launderer) कहलाता है।

मनी लॉन्ड्रिंग की प्रक्रिया – Process of Money Laundering

मनी लॉन्ड्रिंग के अनेक तरीके होते हैं इन में से अधिकांस तरीकों में तीन चरण होते हैं जो निमन्वत हैं ।

  1. प्लेसमेंट (Placement)
  2. लेयरिंग (Layering)
  3. एकीकरण (Integration)

प्लेसमेंट (Placement)

यह मनी लॉन्ड्रिंग का पहला चरण है लाउन्डरर (Launderer) अवैध तरीके से कमाए गए काले धन को बैंक में या वित्तीय संस्थानों में नकद जमा करता है। 

लेयरिंग (Layering)

यह मनी लॉन्ड्रिंग का दूसरा चरण है यह चरण है यह काले धन को छुपाने से सम्बंधित है जिसे लेयरिंग (Layering) कहा जाता है इसमें लाउन्डरर धनराशि को निवेश, बांड, स्टॉक, फर्जी कंपनी, विदेशी बैंक खातों आदि में निवेश करके अपनी असली आय को छुपा लेता है। 

एकीकरण (Integration)

यह मनी लॉन्ड्रिंग प्रक्रिया का अंतिम चरण है. इस प्रकिया के माध्यम से निवेश, बांड, स्टॉक, फर्जी कंपनी, विदेशी बैंक खातों आदि मे निवेश किया गया पैसा अक्सर किसी कंपनी में निवेश,अचल संपत्ति खरीदने, लक्जरी सामान खरीदने आदि के माध्यम से लाउन्डरर के पास वैध धन के रूप में वापस आ जाता है। 

मनी लॉन्ड्रिंग के लिए कानून 

मनी लॉन्ड्रिंग एक गैर कानूनी काम है इसके लिए हर देश में अपने अलग – अलग कानून है भारत में मनी-लॉन्ड्रिंग निरोध अधिनियम, 2002 1 जुलाई 2005 से लागू है। और इसमें 2009 में और आखरी बार 2012 में संसोधन किया गया था।

मनी लॉन्ड्रिंग शब्द सुनने में जितना सरल लगता है मनी लॉन्ड्रिंग की प्रक्रिया उतनी ही जटिल है हमें उम्मीद है इस पोस्ट के माध्यम से आप जान गए होंगे की मनी लॉन्ड्रिंग क्या है What is Money laundering in Hindi , अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो आप कमेन्ट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें…. 👇👇

खसरा खतौनी क्या है – What is khasra khatauni in hindi

LiDAR स्कैनर क्या है – LiDAR Full Form

Leave a Comment