शांति मंत्र / पाठ – Shanti path in hindi & sanskrit , meaning, lyrics and Benifits

शांति मंत्र / पाठ – Shanti path in hindi & sanskrit , meaning, lyrics and Benifits
Advertisement

शांति मंत्र / पाठ – Shanti path in hindi & sanskrit , meaning, lyrics and Benifits

हिंदू धर्म में पूजा आदि के साथ-साथ मंत्रोच्चारण का भी बहुत महत्व है। शास्त्रों में प्रत्येक देवी-देवता के अपने अलग-अलग मंत्र बताए गए हैं। हिन्दू धर्म हर प्रकार के धार्मिक कार्यों में मंत्रों का उच्चारण किया जाता है हिन्दू धर्म में कोई भी धार्मिक कार्य बिना मंत्रों के उच्चारण के सम्पन्न नहीं होता है

हिन्दू धर्म में ही एक प्रमुख मंत्र है शांति मंत्र या जिसे शांति पाठ भी कहा जाता है इस मंत्र का उच्चारण हर प्रकार के धार्मिक अनुष्ठान के अंत में किया जाता है और इस मंत्र से सर्व जन की शांति की प्रार्थना की जाती है वेसे तो कई शांति मंत्र है लेकिन सबसे प्रमुख मंत्र है ॐ द्यौः शान्तिरन्तरिक्षं शान्तिः… ये सभी मंत्र ज्योतिष शास्त्र के अलावा हिंदू धर्म के अन्य ग्रंथों में भी वर्णित है।

Advertisement

शांति मंत्र / पाठ – ॐ द्यौः शान्तिरन्तरिक्षं शान्तिः……..

यह मंत्र यजुर्वेद का है, इस मंत्र के माध्यम से कुल मिलाकर जगत के समस्त जीवों, वनस्पतियों और प्रकृति में शांति बनी रहे इसकी प्रार्थना की गई है।

ॐ द्यौ: शान्तिरन्तरिक्षँ शान्ति:,

पृथ्वी शान्तिराप: शान्तिरोषधय: शान्ति:।

वनस्पतय: शान्तिर्विश्वे देवा: शान्तिर्ब्रह्म शान्ति:,

सर्वँ शान्ति:, शान्तिरेव शान्ति:, सा मा शान्तिरेधि॥

ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥

शांति मंत्र का अर्थ – Shanti Mantra Meaning in Hindi

हे परमात्मा स्वरूप, शांति कीजिए, वायु में शांति हो, अंतरिक्ष में शांति हो, पृथ्वी पर शांति हों, जल में शांति हो, औषध में शांति हो, वनस्पतियों में शांति हो, विश्व में शांति हो, सभी देवतागणों में शांति हो, ब्रह्म में शांति हो, सब में शांति हो, चारों और शांति हो, हे परमपिता परमेश्वर शांति हो, शांति हो, शांति हो।

Shanti Mantra Meaning in English

O God, peace be in the air, peace in space, peace on earth, peace in water, peace in medicine, peace in plants, peace in the world, peace in all the gods, in Brahma May there be peace, may there be peace in all, may there be peace all around, may the Almighty God be in peace, may there be peace, may there be peace.

शांति मंत्र के लाभ – Benifits of Shanti Mantra

शांति मंत्र के पाठ से मन शांत होता है , शरीर में ऊर्जा उत्पन्न होती है शांति मंत्र का उच्चारण करने से दिमाग भी हल्का और शांत रहता है। और शरीर के अंग सुव्यवस्थित तरीके से काम करते हैं

शांति मंत्र का उच्चारण कब करना चाहिए?

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार शांति मंत्र का उच्चारण सुबह करना चाहिए ताकि पूरा दिन शांतिपूर्ण तरीके से बीते, और शांति मंत्र का उच्चारण धार्मिक अनुष्ठानों के आरंभ व अंत में भी किया जाता है।

Also read….

Hanuman Chalisa meaning in hindi | हनुमान चालीसा का हिन्दी अर्थ

Leave a Comment