Swami Vivekananda quotes in hindi – स्वामी विवेकानंद के विचार

Swami Vivekananda quotes in hindi – स्वामी विवेकानंद के विचार

स्वामी विवेकानंद एक हिंदू भिक्षु थे और भारत के सबसे प्रसिद्ध आध्यात्मिक नेताओं में से एक थे। वे एक विपुल विचारक, महान वक्ता और भावुक देशभक्त थे। उन्होंने अपने गुरु, रामकृष्ण परमहंस के मुक्त-विचार दर्शन को एक नए प्रतिमान में आगे बढ़ाया। उन्होंने समाज की भलाई के लिए, गरीबों और जरूरतमंदों की सेवा में, अपने देश के लिए अपना सब कुछ समर्पित करने के लिए अथक प्रयास किया। वह हिंदू अध्यात्मवाद के पुनरुद्धार के लिए जिम्मेदार थे और विश्व मंच पर हिंदू धर्म को एक सम्मानित धर्म के रूप में स्थापित किया। सार्वभौमिक भाईचारे और आत्म-जागरूकता का उनका संदेश विशेष रूप से दुनिया भर में व्यापक राजनीतिक उथल-पुथल की वर्तमान पृष्ठभूमि में प्रासंगिक बना हुआ है। युवा भिक्षु और उनकी शिक्षाएं कई लोगों के लिए प्रेरणा रही हैं, और उनके शब्द विशेष रूप से देश के युवाओं के लिए आत्म-सुधार का लक्ष्य बन गए हैं। इसी कारण से उनके जन्मदिन 12 जनवरी को भारत में राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस पोस्ट में स्वामी विवेकानंद के विचार Swami Vivekananda quotes in hindi को दिया गया है जिन्हे पढ़कर आपको भी प्रेरण प्राप्त होगा Swami Vivekananda thoughts in hindi

Advertisement

Swami Vivekananda quotes in hindi – स्वामी विवेकानंद के विचार

1. उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाये।

Arise, awake and do not stop until the goal is reached.

Advertisement
– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

2. खुद को कमजोर समझना सबसे बड़ा पाप हैं।

The greatest sin is to think yourself weak.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

3. सत्य को हज़ार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा।

Truth can be stated in a thousand different ways, yet each one can be true.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

4. ब्रह्माण्ड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हमही हैं जो अपनी आँखों पर हाँथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार हैं।

All the powers in the universe are already ours. It is we who have put our hands before our eyes and cry that it is dark.

5. जो अग्नि हमें गर्मी देती है, हमें नष्ट भी कर सकती है, यह अग्नि का दोष नहीं हैं।

The fire that gives us heat, can also destroy us, it is not the fault of fire.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

6.  विश्व एक विशाल व्यायामशाला है जहाँ हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं।

The world is the great gymnasium where we come to make ourselves strong.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

7. दिल और दिमाग के टकराव में दिल की सुनो।

In a conflict between the heart and the brain, follow your heart.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

8. हर काम को तीन अवस्थाओं से गुज़रना होता है – उपहास, विरोध और स्वीकृति।

Every work has to go through three stages – ridicule, protest and acceptance.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

9. अपने स्वभाव के प्रति सच्चे रहना सबसे बड़ा धर्म है। अपने आप पर विश्वास रखें

The greatest religion is to be true to your own nature. Have faith in yourselves

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

10. शक्ति ही जीवन है, दुर्बलता ही मृत्यु है।
विस्तार ही जीवन है, संकुचन ही मृत्यु है।
प्रेम ही जीवन है, घृणा मृत्यु है

Strength is Life, Weakness is Death.
Expansion is Life, Contraction is Death.
Love is Life, Hatred is Death

11. दिन में एक बार अपने आप से बात करें, नहीं तो आप इस दुनिया में एक बुद्धिमान व्यक्ति से मिलने से चूक सकते हैं

Talk to yourself once in a day, otherwise you may miss meeting an intelligent person in this world

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

12. जिस दिन आपके सामने कोई समस्या न आए – आप सुनिश्चित हो सकते हैं कि आप गलत रास्ते पर यात्रा कर रहे हैं

In a day, when you don’t come across any problems – you can be sure that you are travelling in a wrong path

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

13.  एक विचार लो। उस विचार को अपना जीवन बना लो – उसके बारे में सोचो उसके सपने देखो, उस विचार को जियो। अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों, शरीर के हर हिस्से को उस विचार में डूब जाने दो, और बाकी सभी विचार को किनारे रख दो। यही सफल होने का तरीका हैं।

Take up one idea. Make that one idea your life; dream of it; think of it; live on that idea. Let the brain, the body, muscles, nerves, every part of your body be full of that idea, and just leave every other idea alone. This is the way to success, and this is the way great spiritual giants are produced

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

14. तुम्हें कोई पढ़ा नहीं सकता, कोई आध्यात्मिक नहीं बना सकता। तुमको सब कुछ खुद अंदर से सीखना हैं। आत्मा से अच्छा कोई शिक्षक नही हैं।

You have to grow from the inside out. None can teach you, none can make you spiritual. There is no other teacher but your own soul.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

15. बाहरी स्वभाव केवल अंदरूनी स्वभाव का बड़ा रूप हैं।

External nature is only internal nature writ large.

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

Swami Vivekananda Motivational Thoughts in Hindi

 ✔ यदि हमें गौरव से जीने का भाव जगाना है, अपने अंतर्मन में राष्ट्रभक्ति के बीज को पल्लवित करना है तो राष्ट्रीय तिथियों का आश्रय लेना होगा।

 ✔ अपनी वर्तमान अवस्था के जिम्मेदार हम ही हैं, और जो कुछ भी हम होना चाहते हैं, उसकी शक्ति भी हमीं में है। यदि हमारी वर्तमान अवस्था हमारे ही पूर्व कर्मों का फल है, तो यह निश्चित है कि जो कुछ हम भविष्य में होना चाहते हैं, वह हमारे वर्तमान कार्यों द्वारा ही निर्धारित किया जा सकता है।

 ✔ दुनिया में अधिकांश लोग इसलिए असफल हो जाते हैं क्योंकि विपरीत परिस्थितियां आने पर उनका साहस टूट जाता है और वह भयभीत हो जाते हैं।

 ✔ यदि परिस्थितियों पर आपकी मजबूत पकड़ है तो जहर उगलने वाला भी आपका कुछ नही बिगाड़ सकता।

 ✔ अनेक देशों में भ्रमण करने के पश्चात् मैं इस निष्कर्ष पर पहुँचा हूँ कि संगठन के बिना संसार में कोई भी महान एवं स्थाई कार्य नहीं किया जा सकता।

 ✔ यह मत भूलो कि बुरे विचार और बुरे कार्य तुम्हें पतन की और ले जाते हैं । इसी तरह अच्छे कर्म व अच्छे विचार लाखों देवदूतों की तरह अनंतकाल तक तुम्हारी रक्षा के लिए तत्पर हैं ।

 ✔ शिक्षा क्या है ? क्या वह पुस्तक-विद्या है ? नहीं। क्या वह नाना प्रकार का ज्ञान है ? नहीं, यह भी नहीं। जिस संयम के द्वारा इच्छाशक्ति का प्रवाह और विकास वश में लाया जाता है और वह फलदायक होता है, वह शिक्षा कहलाती है।

 ✔ वह नास्तिक है, जो अपने आप में विश्वास नहीं रखता।

  ✔ किसी चीज से डरो मत। तुम अद्भुत काम करोगे। यह निर्भयता ही है जो क्षण भर में परम आनंद लाती है।

 ✔ यह देश धर्म, दर्शन और प्रेम की जन्मभूमि है। ये सब चीजें अभी भी भारत में विद्यमान है। मुझे इस दुनिया की जो जानकारी है, उसके बल पर दृढतापूर्वक कह सकता हूं कि इन बातों में भारत अन्य देशों की अपेक्षा अब भी श्रेष्ठ है।

 ✔ शिक्षा का अर्थ है उस पूर्णता को व्यक्त करना जो सब मनुष्यों में पहले से विद्यमान है।

 ✔ बल ही जीवन है और दुर्बलता मृत्यु ।

 ✔ किसी की निंदा ना करें। अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।

 ✔ मनुष्य जितना अपने अंदर से करुणा, दयालुता और प्रेम से भरा होगा, वह संसार को भी उसी तरह पायेगा।

 ✔ दिन-रात अपने मस्तिष्क को, उच्चकोटि के विचारो से भरो। जो फल प्राप्त होगा वह निश्चित ही अनोखा होगा।

जितना बड़ा संघर्ष होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी।

– स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda)

हमें उम्मीद है आपको स्वामी विवेकानंद (SWAMI VIVEKANANDA) के ये विचार (Swami Vivekananda quotes in hindi) अवश्य पसंद आए होंगे और आपको भी इनसे कुछ प्रेरणा मिली होगी । यदि इनके अलावा भी आपके स्वामी विवेकानंद (SWAMI VIVEKANANDA) का कोई विचार प्रेरित करता हो तो आप नीचे कमेन्ट करके उसे सभी के साथ शेयर कर सकते हैं।

Also read…
APJ Abdul Kalam quotes in hindi – अब्दुल कलाम के विचार

Leave a Comment